Loading...

विवाहित Hindi Jokes

पत्नी: देखो ना, हमारे पड़ोसी ने 50 इंच का LED TV ख़रीदा है! आप भी खरीद कर लाइये ना?
पति: अरे डार्लिंग... जिसके पास तुम्हारे जैसी खूबसूरत बीवी हो वो क्यों फ़ालतू का वक़्त TV देखने में व्यर्थ करेगा?
पत्नी: ओह आप भी ना! अभी आपके लिए पकौड़े बनाकर लाती हूँ?

पत्नी: आप मेरा जन्मदिन कैसे भूल गये?
पति: भला तुम्हारा जन्मदिन कोई कैसे याद रखे? तुम्हें देख कर ज़रा भी नहीं लगता कि तुम्हारी उम्र बढ़ रही है!
पत्नी (आंसू पोछते हुए): सच्ची... आपके लिये खीर ले कर आती हूँ!

पति-पत्नि में झगड़ा हो रहा था।
पत्नि: मैं पूरा घर संभालती हूँ... किचन संभालती हूँ... बच्चों को संभालती हूँ... तुम क्या करते हो?
पति: मैं खुद को संभालता हूँ, तुम्हारी नशीली आँखें देखकर!
पत्नी: आप भी ना... चलो बताओ आज क्या बनाऊँ आपकी पसंद का?
एक महिला अपने बीमार पति को डॉक्टर के पास ले गई।

पूरी जांच करने के उपरांत डॉक्टर ने महिला को अलग कमरे में ले जाकर बताया,"तुम्हारे पति गंभीर अवसाद से ग्रसित हैं। यदि तुमने मेरे निर्देशों का पालन नहीं किया तो वह निश्चित ही मर जायेंगे।"

"रोज सुबह उन्हें पौष्टिक नाश्ता दो। हर समय खुश दिखो। दोपहर और रात का भोजन स्वादिष्ट और सुपाच्य होना चाहिये।"

"अपनी समस्याओं की चर्चा उनके सामने कभी मत करो। इससे उन्हें और ज्यादा तनाव होगा। कोई भी उन्हें सताये या चिढ़ाये नहीं।"

"यदि 6 महीने तक तुमने यह सब कर लिया तो मैं समझता हूं तुम्हारे पति पूरी तरह स्वस्थ हो जायेंगे।"

"घर जाते समय, पति ने पत्‍‌नी से पूछा", डॉक्टर ने क्या कहा?

"यही कि तुम बहुत जल्दी मरने वाले हो", पत्‍‌नी ने जवाब दिया।
आदरणीय पति देव साहब,

आपको सूचित किया जाता है कि आपके लम्बी आयु की वैलिडिटी खत्म होने वाली है और रिचार्ज की तिथि आ गयी है।

8 अक्टूबर 2017 को स्पेशल करवा चौथ रिचार्ज करवा कर लंबी उम्र पाएं।

प्लान्स इस प्रकार हैं:
मेगा प्लान - प्लेटिनम का सेट दीजिए और पाइए 100 साल की उम्र।
सुपर प्लान - हीरे का सेट दीजिए और पाइए 90 साल की उम्र।
बोनस प्लान - सोने का सेट दीजिए और पाइए 80 साल की उम्र।
रेगुलर प्लान - चांदी की पायल दीजिए और पाइए 70 साल की उम्र।
छोटू रिचार्ज - साड़ी देकर आप अपनी 10 साल उम्र और बड़ा सकते हैं।

विशेष नोट:
सभी प्लान्स की वैधता केवल एक साल के लिए यानी अगले करवाचौथ तक ही होगी।
मौके का भरपूर फायदा उठाएं।
मृत्युशय्या पर पड़े जैकब ने अपनी पत्नी सारा को बुलवाया और उससे कहा,

"प्रिय सारा, मैं अपनी वसीयत करना चाहता हूं। मैं अपने सबसे बड़े बेटे अब्राहम को आधी संपदा देना चाहता हूं। वह बहुत धर्मनिष्ठ इंसान है।"

"अरे, नहीं, जैकब! अब्राहम को और अधिक संपत्ति की कोई ज़रूरत नहीं है। उसका अपना व्यवसाय है और वह हमारे धर्म को बहुत गहराई से मानता है। तुम जो भी उसे देना चाहते हो वह इसहाक को दे दो, वह ईश्वर के अस्तित्व को लेकर हमेशा पशोपेश में रहता है और उसे दुनिया में सही तरीके से जीने के ढंग सीखने बाकी हैं।"

"ठीक है। तुम कहती हो तो मैं इसहाक को दे दूंगा। फिर अब्राहम को मैं अपना हिस्सा दे देता हूं।"

"मैंने कहा न, प्रिय जैकब, अब्राहम को वाकई किसी चीज़ की ज़रूरत नहीं है। तुम्हारा हिस्सा मैं रख लूंगी और उसमें से वक्त-ज़रूरत पर बच्चों की मदद कर दिया करूंगी।"

"तुम ठीक कहती हो, सारा। अब हम अपनी इज़राइल वाली जमीन की बात कर लेते हैं। मुझे लगता है कि इसे डेबोरा को देना चाहिए।"

"डेबोरा को? तुम्हारा दिमाग खराब हो गया है क्या? उसके पास पहले से ही इज़राइल में जमीन है। जमीन-जायदाद के पचड़ों में पड़कर उसकी घर-गृहस्थी चौपट नहीं हो जाएगी? मुझे लगता है कि हमारी बेटी मिशेल की हालत वास्तव में मदद करने लायक है।"

जैकब जैसे-तैसे अपनी ताकत बटोरकर बिस्तर से उठा और झुंझलाते हुए बोला,

"देखो सारा, तुमने उम्र भर बहुत अच्छी पत्नी और आदर्श मां का फर्ज निभाया। मैं जानता हूं कि तुम वाकई हमारे बच्चों की भलाई चाहती हो, लेकिन मुझे बताओ कि मर कौन रहा है, तुम या मैं?"
गाँव में रात को भजन का प्रोग्राम था, शर्मा जी की बहुत इच्छा थी जाने की पर पत्नी ने मना कर दिया।

"तुम रात को बहुत देर से आओगे, मैं कब तक जागूँगी?"

ग्यारह बजे वापस आने का बोल के शर्मा जी चले गये। भजन संध्या में ऐसे डूब गये कि समय का ध्यान ही नहीं रहा। घड़ी में एक बजे का समय देख शर्मा जी की हालत ख़राब हो गयी। चप्पल हाथ में लिए दौड़ने लगे और हर-हर महादेव बोलने लगे।

भजन संध्या में आलोकिक माहौल था तो शिवजी भी वहीं थे। वो शर्मा जी की सहायता के लिये आये और बोले, "बोल भक्त क्या परेशानी है?"

शर्मा जी: आप मेरे साथ मेरे घर तक चलो, मैं दरवाज़ा खटखटाऊँ तो आप आगे आकर संभाल लेना। मेरी बीवी आज मुझे छोड़ेगी नहीं।

शिवजी: वत्स तेरी पत्नी तुझे क्यों मारेगी?

शर्मा जी: प्रभु मैं बीवी को ग्यारह बजे आने का कह के आया था।

शिवजी: तो अभी कितने बजे हैं?

शर्मा जी: प्रभु डेढ़ बजे हैं।

डेढ़ सुनते ही शिवजी भी भागने लगे।

शर्मा जी: प्रभु क्या हुआ?

शिवजी दौड़ते-दौड़ते बोले, "मैं ख़ुद साढ़े बारह बजे का बोल के आया था।"

पत्नी मतलब पत्नी चाहे किसी की भी हो!
सुबह उठ कर पत्नी को पुकारते हैं, सुनो चाय लाओ।

थोड़ी देर बाद फिर आवाज़, सुनो नाश्ता बनाओ।

क्या बात है, आज अभी तक अखबार नहीं आया।

जरा देखो तो, किसी ने दरवाजा खटखटाया।

अरे आज बाथरूम में साबुन नहीं है क्या?

देखो तो कितना गीला पड़ा है तौलिया।

अरे,ये शर्ट का बटन टूटा है, जरा लगा दो और मेरे मौजे कहाँ है, जरा ढूंढ के ला दो।

लंच के डिब्बे में आलू के परांठे दो ज्यादा रख देना।

देखो अलमारी पर कितनी धूल जमी पड़ी है, लगता है कई दिनों से डस्टिंग नही की है।

गमले में पौधे सूख रहे हैं, क्या पानी नहीं डालती हो? दिन भर करती ही क्या हो बस गप्पे मारती हो।

शाम को डोसा खाने का मूड है, बना देना।

बच्चों की परीक्षाएं आ रही हैं पढ़ा देना।

सुबह से शाम तक कर फरमाईशें कर नचाते हैं, चैन से सोने भी नहीं देते, सताते हैं।

दिनभर में बीवियां कितना काम करती हैं ये तब मालूम पड़ता है जब वो बीमार पड़ती हैं। एक दिन में घर अस्त व्यस्त हो जाता है, रोज का सारा रूटीन ही ध्वस्त हो जाता है। आटे दाल का सब भाव पता चल जाता है। बीवी की अहमियत क्या है, ये पता चल जाता है।

सभी बीवियों को सलाम!
Analytics